प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फणडवीस की महाजनादेश यात्रा के समापन के मौके पर एक रैली को संबोधित किया. प्रधानमंत्री मोदी ने रैली के दौरान विपक्षियों पर खूब वार किया. अपने संबोधन के दौरान पीएम ने राम मंदिर से लेकर कश्मीर मुद्दे तक का जिक्र किया. साथ ही उन्होंने केंद्र की योजनाओं का खाका भी लोगों के सामने रखा.

राम मंदिर पर पीएम मोदी ने कहा

पीएम मोदी ने कही कि ‘मैं देख रहा हूं कि पिछले दो-तीन सप्ताह से कुछ बयानबहादुर और बड़बोले लोग राम मंदिर को लेकर अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं. देश के सभी नागरिकों का भारत के सुप्रीम कोर्ट के प्रति सम्मान बहुत आवश्यक होता है. जब मामला अदालत में चल रहा हो, सब पक्ष अपनी बात रख रहे हों, कोर्ट लगातार समय निकालकर पूरी बात को सुन रहा हो तब मैं हैरान हूं कि ये बहानबाहदुर क्यों पूरे मामले में अड़ंगे डाल रहे हैं.

‘SC पर भरोसा होना चाहिए’

पीएम मोदी ने आगे कहा कि  ‘हमारा सुप्रीम कोर्ट पर भरोसा होना चाहिए. हमारा बाबा साहब आंबेडकर के दिए संविधान पर भरोसा होना चाहिए. हमारी न्याय प्रणाली पर भरोसा होना चाहिए. इसलिए मैं आज बड़बोले लोगों से हाथ जो़ड़कर विनती करता हूं. भगवान प्रभु राम की खातिर आंख बंद करके भारत की न्याय प्रणाली के प्रति श्रद्धा रखें’.

पीएम मोदी- कश्मीर हमारा है

अपने संबोधन के दौरन पीएम मोदी ने कहा कि ‘हमने पूरे देश से वादा किया था कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख की समस्याओं के समाधान के लिए नए प्रयास करेंगे. आज मैं संतोष के साथ कह सकता हूं कि देश उस सपनों को साकार करने की दिशा में चल पड़ा है. जम्मू कश्मीर में भारत के संविधान को समग्रता से लागू करना सिर्फ एक सरकार का फैसला नहीं है, ये 130 करोड़ भारतीयों की भावना का प्रकटीकरण है’.

मोदी ने कश्मीर पर कहा कि कल तक हम कहते थे- कश्मीर हमारा है. अब हर हिंदुस्तानी कहेगा- हमें नया कश्मीर बनाना है, हर कश्मीरी को गले लगाना है और हमें वहां फिर से स्वर्ग बनाना है.

पीएम मोदी का विपक्षियों पर वार

विपक्षियों पर तंज कसते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ‘पहले की सरकारों में राजनीतिक अस्थिरता के कारण महाराष्ट्र जिस तेजी से आगे बढ़ना चाहिए था, उस तेजी से आगे नहीं बढ़ा. मुंबई महानगरी की चकाचौंध में महाराष्ट्र के दूर दराज के क्षेत्र, वहां के गरीब, किसान राजनीतिक अस्थिरता के शिकार हो गए. मोदी ने कहा कि देवेंद्र फडणनवीस जी ने 5 वर्ष अखंड और अविरत साधना करके महाराष्ट्र की सेवा की और राज्य को नई दिशा दी. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा