हरियाणा में चल रही राजनीतिक खीचतान के बीच मनोहर लाल खट्टर ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री पद की शपथ लेकर हरियाणा की राजनीति को संभाल लिया है. वही जननायक जनता पार्टी के चीफ दुष्यंत चौटाला ने डिप्टी सीएम की कुर्सी को संभाला है.

मनोहर लाल ने ली शपथ

हरियाणा में 90 विधानसभा सीटें हैं. जिसमें बीजेपी ने 40 सीटे हासिल की थी. लेकिन बहुमत के आंकड़ों के हिसाब से बीजेपी सहयोगी दल की तलाश कर रही थी. ऐसे में कुछ वक्त पहले बनी जेजेपी ने दस सीटों पर जीत हासिल की थी और जेजेपी के बीजेपी को समर्थन देने के बाद अब स्थायी सरकार बनायी जा रही है.

दुष्यंत बने डिप्टी सीएम

वही मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार को जानकारी दी थी कि 57 विधायकों, जिनमें भाजपा के 40, जजपा के 10 और सात निर्दलीय विधायक शामिल हैं, के समर्थन के साथ सरकार गठन के लिये राज्यपाल के समक्ष दावा पेश किया. हरियाणा की 90 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिये 46 सीटें होना जरूरी है.

जेजेपी ने दिया समर्थन

हालांकि इससे पहले निर्दलीय विधायकों समेत हरियाणा जनहित कांग्रेस चीफ गोपाल कांडा ने बीजेपी को समर्थन देने का ऐलान किया था. लेकिन गीतिका शर्मा सुसाइड केस के आरोपों का सामना कर रहे कांडा के समर्थन लेने को लेकर बीजेपी की जमकर किरकिरी हुई. जिसके बाद बीजेपी ने कांडा को किनारा करते हुए जेजेपी के समर्थन के सरकार बना रही है. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा