रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान से पूछा है कि कश्मीर पाकिस्तान का हिस्सा था ही कब जो उसको लेकर रोते रहते हो ? रक्षा मंत्री की तरफ से यह सब बातें केंद्र शासित प्रदेश बने लद्दाख के सबसे बड़े शहर लेह से पाकिस्तान की नियत पर सवाल उठाते हुए कही गई है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पहली बार जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद और दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेशों में बांटे जाने के बाद पहली बार लद्दाख पहुंचे.

‘कश्मीर पर पाक का अधिकार नहीं’

लद्दाख पहुंचने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा लेह में किसान जवान विज्ञान मेले का उद्घाटन किया गया. रक्षा मंत्री ने पाकिस्तान को खूब लताड़ा और कश्मीर पर उसके दावे को लेकर सवाल किया. रक्षा मंत्री द्वारा कहा गया कि पाकिस्तान बन गया, हम आपके वजूद का सम्मान करते हैं. पाकिस्तान को कश्मीर के मुद्दे पर बात करने का कोई अधिकार नहीं है.

राजनाथ सिंह- सिर्फ PoK पर होगी बात

उन्होंने कहा कि अब पाकिस्तान से बातचीत भी होगी तो केवल पीओके को लेकर होगी नहीं तो इसके अलावा पाकिस्तान से कोई बातचीत नहीं की जाएगी. कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और रहेगा इसके अलावा पीओके भी भारत का अभिन्न हिस्सा है.

“अमेरिका ने की सहारना”

इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा कहा गया था कि सरकार जो कुछ भी कर रही है वह जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए आर्थिक विकास, लोकतंत्र और समृद्धि मे सुधार के लिए कर रही है. राजनाथ सिंह ने कहा की सीमा पर आतंकवाद का मुद्दा उठाया गया है और क्षेत्र में शांति व स्थिरता बनाए रखने के लिए भारत के प्रयासों की अमेरिका ने सहारना की है. अनुच्छेद 370 से संबंधित मुद्दा भारत का आंतरिक मामला है जिसका उद्देश्य जम्मू कश्मीर के लोगों के लिए आर्थिक विकास लोकतंत्र और समृद्धि में सुधार करना है.

राजनाथ सिंह का दौरा है अहम

आपको बता दें कि सुरक्षा की दृष्टि से लद्दाख का दौरा राजनाथ सिंह का काफी अहम माना जा रहा है. जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाने के बाद वह अपना पहला दौरा कर रहे हैं. इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान चीन से लगती सीमा के मौजूदा हालात के बारे में भी जानकारी ली. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा