बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के कोलकात में एनआरसी जागरुकता कार्यक्रम को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने अनुच्छेद 370 को हटाए जाने पर बात की. अमित शाह ने कहा कि यही से अनुच्छेद 370 हटाने की आवाज सबसे पहले उठी थी. अमित शाह ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने यहां से ही एक देश एक संविधान का नारा दिया था.

‘घुसपैठियों को रहने नहीं देंगे’

श्यामा प्रसाद मुखर्जी का नारा दोहराते हुए अमित शाह ने कहा कि जहां हुए बलिदान मुखर्जी वह कश्मीर हमारा है. उन्होंने कहा कि अब हिंदू शरणार्थियों को बंगाल छोड़ना नहीं होगा. अमित शाह ने कहा कि ‘मैं आपको स्पष्ट कना चाहता हूं कि हम एनआरसी ला रहे हैं उसके बाद हिंदुस्तान में एक भी घुसपैठिए को रहने नहीं दिया जाएगा’.

अमित शाह का संबोधन

अमित शाह ने कहा कि ‘केंद्र सरकार अब एनआरसी के पहले सिटिजन अमेंडमेंट बिल को लाने वाली है जिसके तहत देश में जितने भी हिंदू, बौद्ध, सिक, जैन, ईसाई शरणार्थी आए हैं उन्हें हमेशा के लिए भारत की नागरिकता दी जाएगी’.

कांग्रेस पर साधा निशाना

अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘श्यामा प्रसाद की शहादत के बाद कांग्रेस को लगा कि अब मामला समाप्त हो गया है लेकिन उन्हें नहीं पता कि हम बीजेपी वाले हैं. किसी चीज को पकड़ते हैं तो उसे छोड़ते नहीं हैं. आपने बीजपी सरकार बनाई है और हमने एक ही झटके में 370 को उखाड़कर फेंक दिया’.

‘निश्चित रूप से बनेगी बीजेपी सरकार’

पने संबोधन में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि ‘अगर पश्चिम बंगाल की जनता परिवर्तन नहीं करते तो बीजेपी 300 सीटों से ज्यादा जीतने का लक्ष्य पूरा नहीं कर पाती. इस लोकसभा चुनाव में बंगाल में भाजपा को 18 सीटों पर जीत मिली है. अब आने वाले चुनाव में यहां निश्चित रूप से बीजेपी की सरकार बनने वाली है’. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा