बीजेपी के दिग्गज नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. बताया जा रहा है कि उन्हें सांस लेने में काफी तकलीफ हो रही है जिसके बाद उन्हें शुक्रवार सुबह 11:00 बजे अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. भर्ती के बाद से ही डॉक्टरों की टीम उन पर निगरानी कर रही है.

जेटली से मिलने पहुंचे प्रधानमंत्री

अरुण जेटली की खबर सुनते के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनसे अस्पताल मिलने पहुंचे थे. उनके अलावा केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन भी अरुण जेटली का हाल-चाल जानने के लिए एम्स पहुंचे थे. इस बीच मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर उनके जल्द स्वास्थ्य होने की कामना की है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि ‘श्री अरुण जेटली जी के अस्वस्थ होने का समाचार मिला आपके शीघ्र स्वास्थ्य होने की कामना करता हूं’

‘अभी हालत स्थिर है’

वहीं दूसरी और एम्स की तरफ से बयान जारी किया गया है. जिसमें यह कहा गया है कि अरुण जेटली सुबह अस्पताल लाए गए थे. फिलहाल में डॉक्टरों की देखरेख में आईसीयू में भर्ती हैं और उनकी हालत अभी स्थिर है. मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार एंडोक्रिनोलोजिस्ट, नेफ्रोलॉजिस्ट, कार्डियोथोरेसिक और न्यूरोसाइंसेस सेंटर के वीआईपी कक्ष में अरुण जेटली के परिवार वाले मौजूद हैं.

जानकारी के लिए बता दें कि मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में नई मंत्रिपरिषद के शपथ ग्रहण समारोह से 1 दिन पहले 29 मई को पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर यह बात कही थी कि वह स्वास्थ्य कारणों से नहीं सरकार में मंत्री नहीं बनना चाहते हैं. वहीं राज्यसभा सदस्य जेटली ने कहा था कि पिछले 18 महीनों से वह स्वास्थ्य संबंधी चुनौतियों से जूझ रहे हैं. इसलिए भविष्य में किसी जिम्मेदारी से खुद को दूर रखना चाहते हैं. इसके साथ ही इलाज एवं स्वास्थ्य पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा