Hydroxychloroquine भेजने पर शुक्रिया

दुनिया भर में कोरोना वायरस ने अपना कहर मचा रखा है. इसे खत्म करने की दिशा में मलेरिया रोधी दवा Hydroxychloroquine को अहम माना जा रहा है. भारत Hydroxychloroquine का दुनियाभर में सबसे बड़ा निर्माता है. भारत ने यह दवा अमेरिका के साथ-साथ इस्राइल भी भिजवाई है. जिसके बाद वहां के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक तस्वीर ट्वीट कर इस मदद के लिए उनका शुक्रिया अदा किया है.

इस्राइल के पीएम ने किया शुक्रिया

इस्राइल के पीएम की तरफ शुक्रिया अदा करने के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट कर उन्हें जवाब दिया है. पीएम मोदी ने बेंजामिन नेतन्याहू को टैग करते हुए लिखा कि ‘हमें संयुक्त रूप से इस महामारी से लड़ना होगा. भारत अपने दोस्तों की मदद के लिए जो भी संभव है, उसे करने के लिए तैयार है. इजरायल के लोगों की सलामती और अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना करता हूं’.

पीएम मोदी ने दिया जवाब

Hydroxychloroquine दवा  भेजने पर इस्राइली पीएम ने भारत के प्रति आभार व्यक्त करते हुए आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया था कि ‘क्लोरोक्वाइन को इस्राइल भेजने के लिए मेरे प्यारे दोस्त और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आपका धन्यवाद. इजरायल के सभी नागरिकों की ओर से शुक्रिया’.

आपको बता दें कि भारत से Hydroxychloroquine की खेप अमेरिका के लिए भी रवाना हो चुकी है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी भारत व पीएम मोदी के प्रति आभार जताते हुए कहा था कि अमेरिका इस मदद को कभी नहीं भूलेगा. कई अन्य देश भी भारत से इस मलेरिया रोधी दवाई की मांग कर चुके हैं. लेकिन दूसरी तरफ कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप की बात की जाए तो खबरों के अनुसार 180 से ज्यादा देशों में ये जानलेवा वायरस फैल चुका है. अब तक दुनिया में इस वायरस के कारण 95,000 से ज्यादा जानें जा चुकी हैं.

भारत में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 6412 हो गई है. पिछले 24 घंटों में कोरोना के 678 नए मामले सामने आए हैं और 33 लोगों की मौत हुई है. देश में अभी तक 199 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि 504 मरीज इस बीमारी को हराने में कामयाब भी हुए हैं. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.