सड़क पर उतरे छात्र

जेएनयू मामला लगातार बढ़ता ही जा रहा है. हिंसा के खिलाफ अब लेफ्ट विंग के छात्र सड़कों पर उतर गए हैं. इस कड़ी में छात्रों की तरफ से जेएनयू कैंपस से मंडी हाउस और जंतर मंतर तक मार्च निकाला गया. शाम के वक्त छात्रों का हुजूम राष्ट्रपति भवन की तरफ बढ़ा, ऐसे में दिल्ली पुलिस ने उन्हें रोका. जिसके बाद विरोध मार्च के दौरान छात्रों और पुलिस के बीच झड़प हो गई. इस झड़प में एक छात्र घायल बताया जा रहा है.

 पुलिस और छात्रों के बीच झड़प

JNU छात्रों की संघ वाइस चांसलर जगदीश कुमार को हटाने की मांग है. JNU छात्र संघ का यह भी कहना है कि राष्ट्रपति भवन के लिए निकाले जा रहे शांतिपूर्ण मार्च को पुलिस की बर्बरतापूर्ण कार्रवाई रोक नहीं सकती. इस दौरान जेएनयू छात्र संघ ने दिल्ली पुलिस पर प्रदर्शनकारी महिलाओं को हिरासत में लेने का आरोप लगाया.

दिल्ली पुलिस पर आरोप

छात्रों की तरफ से दिल्ली पुलिस से सवाल किया गया कि आखिर सूरज डूबने के बाद महिला पुलिस अधिकारियों के बिना दिल्ली पुलिस ने महिला प्रदर्शनकारियों को हिरासत में कैसे लिया गया?. मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार जेएनयू के 8 छात्रों का प्रतिनिधिमंडल अपनी शिकायतों को लेकर मानव संसाधन विकास मंत्रालय गया. मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सचिव अमित खरे ने कहा कि जेएनयू विवाद को सुलझाने की हर संभव कोशिश की जा रही है.

अभी तक नहीं हुई गिरफ्तारी

हालांकि अभी तक जेएनयू में 5 जनवरी की रात हिंसा फैलाने वाले नकाबपोश गुंडे गिरफ्तार नहीं हुए हैं. दूसरी तरफ दिल्ली पुलिस की ओर से इस मामले में उचित कार्रवाई की बात कही जा रही है. लेकिन हिंसा करने वाले अभी तक दबोचे नहीं जा सके हैं. जिसके बाद जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने भी इस हिंसा की जांच के लिए 5 सदस्यीय कमेटी बनाई है.

बीजेपी की रैली

सड़कों पर उतरे जेएनयू से छात्रों का हुजूम अपनी अलग-अलग मांगों के साथ मंडी हाउस की ओर मार्च निकाल रहा था तो बीजेपी ने दिल्ली चुनाव जीतने के लिए विजय अभियान रैली शुरू की. दिल्ली की सड़कों पर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने लंबी चौड़ी बाइक रैली निकाली. काफिले में सैकड़ों की भीड़ मौजूद थी. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा