हिंसा की वीडियो आयी सामने

दिल्ली स्थित जामिया मिल्लिया इस्लामिया में हुई हिंसा का मुद्दा इन दिनों काफी सुर्खियों में चल रहा है. 15 दिसंबर को हुई हिंसा की वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है. वीडियो में 15 दिसंबर को दिल्ली पुलिस द्वारा लाइब्रेरी के अंदर घुस कर की गई छात्रों की पिटाई को दिखाया गया है.

जामिया मिल्लिया इस्लामिया में हुई थी हिंसा

करीब दो महीने के बाद उस घटना का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आ गया है. मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार ये सीसीटीवी फुटेज जामिया की ओल्ड लाइब्रेरी का है. जिसमें साफ नजर आ रहा है कि छात्र पढ़ाई कर रहे हैं. अचानक पुलिस अंदर घुसती है और लाइब्रेरी के अंदर पढ़ रहे छात्रों को बुरी तरह पीटने लगती है. इस घटना में बड़ी तादाद में छात्र घायल हुए थे. वहीं अब तक लाइब्रेरी खुल नहीं पाई है.

पिटाई की वीडियो वायरल

वीडियो में नजर आ रहा है कि छात्र वहां पढ़ाई कर रहे हैं. अचानक पुलिस आती है और लाइब्रेरी के अंदर घुसकर छात्रों को पीटने लगती है. पुलिस की पिटाई में एक छात्र की आंख भी गई थी. आपको बता दें कि पिछले साल दिसंबर में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्रों ने शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन किया था.

छात्रों के बेरहमी से पीटा

15 दिसंबर की रात दिल्ली पुलिस जबरन यूनिवर्सिटी के अंदर घुसी और छात्रों को बेरहमी से पीटा. इस मामले में जामिया प्रशासन की ओर से पुलिस के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी. फिलहाल पुलिस मामले में अभी भी जांच की बात कह रही है. जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्र विश्वविद्यालय प्रशासन से दिल्ली पुलिस के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.

बातचीत का फैसला

वही दूसरी तऱफ देशभर में CAA का जबरदस्त विरोध हो रहा है. दिल्ली के शाहीन बाग में पिछले दो महीने से CAA को वापस लिए जाने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन चल रहा है. दो महीने के बाद अब शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों ने केंद्र सरकार से बातचीत करने का फैसला किया है. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.