जम्मू कश्मीर में अक्सर हालात संवेदनशील बने रहते हैं. लेकिन घाटी में से धारा 370 को हटाए जाने के बाद आतंकवादियों की कमर टूट गई है. यहां तक की अब तो घाटी में आतंकियों के पास हथियारों की भी भारी कमी हो गई है. जिस कारण अब आतंकी और ज्यादा घटिया हरकतों पर उतर आए हैं और सुरक्षाबलों से हथियार छीनने की कोशिश कर रहे हैं. इन पूरी बातों की जानकरी उत्तरी कमांड के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने दी है.

कोशिशों में जुटा पाकिस्तान

लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा कि आतंकियों के पास हथियारों की कमी हो गई है. अब पाकिस्तान अगल अगल तरीकों से हथियार भेजने की कोशिश कर रहा है. मीडिया से बात करते हुए उन्होंने अफगानी आतंकियों की घुसपैठ की रिपोर्ट का खंडन किया. लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा कि सेना की जवाबी घुसपैठ ग्रिड काफी मजबूत है. इस तरह के किसी भी प्रयास को विफल करने के लिए सेना सतर्क है.

अन्य सीमाओं से हो रही घुसपैठ

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि देश की अन्य सीमाओं से घुसपैठ की कोशिश हो रही है. ऐसा इसलिए है, क्योंकि जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास जवाबी घुसपैठ ग्रिड काफी मजबूत है. लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह  ने जानकारी दी कि आतंकियों द्वारा लखनपुर से जम्मू कश्मीर में घुसपैठ करने की कोशिश की.

सर्जिकल स्ट्राइक एक विकल्प

वही दूसरी तरफ अधिकारी ने सर्जिकल स्ट्राइक को एक और विकल्प कहा है. लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा कि किस विकल्प पर कब अमल करना है, यह सेना के आश्चर्य करने के तरीके पर निर्भर करेगा. इस दौरान उन्होंने कहा कि सेना किसी भी स्थिति  से निपटने के लिए तैयार है. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा