हार्दिक पटेल की गिरफ्तारी का मामला

कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल की गिरफ्तारी के मामले में अब राजनीति भी शुरू हो गई है. इस मामले में पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बीजेपी सरकार पर वार किया है. प्रियंका गांधी ने कहा कि ‘युवाओं के रोजगार और किसानों के हक की लड़ाई लड़ने वाले युवा हार्दिक पटेल जी को बीजेपी बार-बार परेशान कर रही है. हार्दिक ने अपने समाज के लोगों की आवाज उठाई, उनके लिए नौकरियां मांगी, छात्रवृत्ति मांगी. किसान आंदोलन किया. बीजेपी इसको देशद्रोह बोल रही है’.

प्रियंका गांधी का सरकार पर वार

कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को विरमगांव के पास हासलपूर से गिरफ्तार किया गया था. मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार हार्दिक पटेल को राजद्रोह के एक मामले में गिरफ्तार किया गया है. इस मामले में कोर्ट ने हार्दिक पटेल के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था और 24 जनवरी को हाजिर होने को कहा था. हालांकि उनको पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया है. बताया जा रहा है कि अहमदाबाद की एक अदालत ने हार्दिक पटेल के खिलाफ पाटीदार आरक्षण समर्थक रैली के बाद हुई हिंसा के मामले में दायर राजद्रोह के एक केस में शनिवार को गैर जमानती वारंट जारी कर दिया था.

ये है मामला

आपको बता दें कि 25 अगस्त 2015 को अहमदाबाद में जीएमडीसी मैदान में पाटीदार आरक्षण समर्थक रैली के बाद राज्य भर में तोड़फोड़ और हिंसा हुई थी जिसके बाद क्राइम ब्रांच ने उसी साल अक्टूबर में एक केस दर्ज किया था. पुलिस ने अपनी चार्जशीट में हार्दिक और उनके कुछ सहयोगियों पर हिंसा फैलाने और चुनी हुई सरकार को गिराने का षडयंत्र करने का आरोप लगाया था.  ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.