डोनाल्ड ट्रंप के दौरे की चर्चा

इन दिनों देश में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे की काफी चर्चा चल रही है. डोनाल्ड ट्रंप की यह यात्रा दो दिन की होगी. इस यात्रा के दौरान भारत और अमेरिका के बीच कई समझौते भी होने की उम्मीद है. हालांकि बताया जा रहा है कि दोनों देशों में कोई भी बड़ा व्यापारिक समझौता नहीं होगा.

समझौते से पीछा हटा अमेरिका

जानकारी है कि ट्रंप के दौरे से ऐन वक्त पहले अमेरिका भारत के साथ व्यापारिक समझौता करने से पीछे हट गया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी अपने दौरे पर भारत-अमेरिका के बीच ट्रेड डील की संभावना से इनकार कर चुके हैं. 24 फरवरी से शुरू होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दौरे से पहले ऐसा माना जा रहा था कि भारत ने अमेरिका के साथ कोई बड़ी ट्रेड डील करने से अपने पैर पीछे खींच लिए हैं.

होल्ड पर डील

एक मीडिया संस्थान को मिली जानकारी के अनुसार भारत और अमेरिका के दोनों पक्षों ने ट्रंप के दौरे से पहले एक व्यापारिक सौदे के लिए भी काफी मेहनत की. दोनों पक्षों के बीच लगभग डील तय भी हो गई थी लेकिन अमेरिकी अधिकारियों ने मेगा संधि की आवश्यकता का हवाला देते हुए आखिरी समय में अपने पांव पीछे खींच लिए और इसे होल्ड पर रख दिया.

जानकारी के मुताबिक दोनों तरफ से कई क्षेत्रों में कम टैरिफ और बाजार में पहुंच प्रदान करने के लिए स्वीकार्य पैकेज के मुद्दे पर बात हुई. इसमें अमेरिका की मांग थी कि कुछ चिकित्सा उपकरणों पर मूल्य प्रतिबंधों में ढील दी जाए तो वहीं भारत की मांग थी कि अमेरिका वरीयता सामान्यीकरण प्रणाली को बहाल करे, जिसे उसने पिछले जून में वापस ले लिया था.

खबरों के मुताबिक जीएसपी के तहत भारतीय निर्माताओं को अमेरिका में 3000 से ज्यादा चुनिंदा उत्पादों पर शुल्क मुक्त निर्यात की अनुमति मिलती थी.  ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.