हिंसा के बाद राजनीति

देश की राजधानी दिल्ली में इन दिनों हालात बेहद ही तनावपूर्ण बने हुए हैं. दिल्ली में हुई हिंसा ने कई लोगों की जान ले ली. जिसके बाद अब इस मुद्दे पर राजनीति भी अपने चरम पर पहुंच गई है और भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस आमने-सामने आ गई है.

प्रकाश जावड़ेकर का आरोप

इस मामले में कांग्रेस के आरोपों का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि दिल्ली में पिछले दो दिनो से शांति है. गिरफ्तारियां हो रही हैं. साजिश करने वाले बेनकाब होंगे. इस मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि ‘दिल्ली के मुख्यमंत्री दंगाग्रस्त क्षेत्रों में जाने की बजाय विधानसभा में इन दंगों में मरने वालों का मजहब बता रहे हैं. कल सोनिया जी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और आज राष्ट्रपति के दरवाजे पर पहुंचे और वहां भाजपा पर दोषारोपण कर रहे हैं’

‘साजिश करने वाले बेनकाब होंगे’

केंद्रीय मंत्री ने आरोप लगाया कि ये दो दिन की हिंसा नहीं है दो महीने से लोगों को उकसाया जा रहा है. CAA पारित होने के बाद राम लीला मैदान में सोनिया जी की रैली हुई जिसमें उन्होंने कहा था कि ये आर- पार की लड़ाई है, फैसला लेना पड़ेगा इस पार या उस पार। उकसाने का काम वहीं से शुरू हुआ.

ताहिर हुसैन का मुद्दा

साथ ही आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन के मकान पर मिले पत्थर, पेट्रोल बम, गुलेल का जिक्र करते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि ताहिर के घर पर दंगे की तैयारी का सामान मिला है. ये लोग जिन्ना वाली आजादी, 100 करोड़ पर 15 करोड़ भारी, असम को अलग करना पड़ेगा, ये सब उकसाने वाले भाषण हुए. पुलिस पर हमला हुआ, लेकिन कांग्रेस और आप चुप हैं. हम ओछी राजनीति की भर्त्सना करते हैं.

कांग्रेस पर वार

इस मामले में प्रियंका गांधी और राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि ‘प्रियंका ने कहा कि लाखों को बंदी बनाया जायेगा, जो नहीं लड़ेगा वो कायर कहलाएगा. राहुल गांधी ने कहा कि आप डरो मत कांग्रेस आपके साथ है. किसी की नागरिकता नहीं जानी है, ये जानते हुए भी जान बूझकर ऐसी गलत बयानी और डर पैदा करना ही इसकी पृष्ठभूमि है. उकसाने का काम वहीं से शुरू हुआ’. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.