दिवाली के बाद अब देशभर में भाई दूज का त्योहार मनाया जा रहा है. ऐसे में दिल्ली सरकार ने डीटीसी बसों में सफर  करने वाली महिलाओं को एक बड़ा तोहफा दिया है. मंगलवार से महिलाएं डीटीसी बसों में मुफ्त सफर कर सकती हैं. सोमवार देर रात दिल्ली सरकार के परिवहन विभाग ने इसे लेकर नोटिफेकेशन जारी की थी.

डीटीसी बसों में फ्री सफर

नोटिफिकेशन के बाद मंगलवार सुबह से डीटीसी की बसों में सफर करने वाली महिलाओं को एक विशेष तरह का पास दिया जा रहा है, जिसमें लिखा है कि ‘महिला सिंगल यात्रा पास’. दिल्ली सरकार के इस ऐलान के बाद दिल्ली देश का पहला ऐसा शहर बन गया है जहां सरकारी बसों में महिलाएं मुफ्त में यात्रा कर रही हैं. मंगलवार सुबह से ही जो महिलाएं डीटीसी और क्लस्टर की बसों में सफर कर रही हैं उनको गुलाबी रंग का एक टिकट दिया जा रहा है जो की पूरी तरह निशुल्क है.

दिया गया गुलाबी टिकट

इस गुलाबी रंग के टिकट के पीछे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की फोटो लगी है और साथ में संदेश दिया हुआ है कि ‘मैं चाहता हूं कि आप और आपका परिवार खूब तरक्की करें. आप महिलाएं आगे बढ़ेंगी देश आगे बढ़ेगा- अरविंद केजरीवाल, मुख्यमंत्री’.

सरकार की सहारना

बसों में मुफ्त सफर करने वाली महिलाएं इस योजना को लेकर सकारात्मक है और केजरीवाल सरकार की सराहना कर रही हैं. लेकिन महिलाओं का कहना है कि सरकार को सफर मुक्त करने के साथ बसों की संख्या भी बढ़ानी चाहिए.

रोजाना चढ़ते 43 लाख यात्री

दिल्ली में डीटीसी और क्लस्टर की कुल 5500 बसे हैं जो रोज़ाना करीब 43 लाख यात्री सफर करते हैं. इस योजना के पीछे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि इससे महिलाएं सुरक्षित होंगी और उनका पैसा बचेगा तो पूरे परिवार को फ़ायदा होगा.

बसों में मार्शल की तैनाती

बसों में यात्रा करने वाली महिलाओं की सुरक्षा के लिए दिल्ली सरकार ने बड़ी संख्या में मार्शल की तैनाती की है. दिल्ली की डीटीसी और क्लस्टर बसों में 13000 मार्शल तैनात किए जाएंगे. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को 6000 बस मार्शल की नियुक्ति के एक कार्यक्रम के दौरान यह बात कही थी. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा