सीएम अरविंद केजरीवाल ने की निंदा

कोरोना वायरस के कारण पूरी देश में दहशत का माहौल है. दिल्ली में भी इसके मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है. राजधानी दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मरकज का कोरोना कनेक्शन सामने आने के बाद हड़कंप मचा है. जिसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने नाराजगी जाहिर की. मुख्यमंत्री ने इस पूरी घटना की निंदा की है और कहा कि सब सारे मंदिर और मस्जिद बंद हैं तो फिर ऐसी हरकत क्यों हुई.

करवाया गया भर्ती

राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दुनिया भर में लोग मर रहे हैं और ऐसे में हम लोग ऐसी गैर जिम्मेदाराना हरकत कर रहे हैं कि लोग एकत्रित हो रहे हैं. सारे धार्मिक स्थल खाली पड़े हैं. ऐसे में इतनी बड़ी गैदरिंग करना बिल्कुल गलत था. यहां से बहुत सारे लोग निकल कर देश के अलग-अलग हिस्सों में पहुंच गए और किन-किन लोगों को इससे नुकसान पहुंच चुका होगा, यह सोचकर भी डर लग रहा है. मरकज में 12-13 मार्च के आसपास देश-विदेश से लोग एकत्रित हुए थे. इनमें काफी लोग चले गए और कुछ रुक गए.

24 लोग पॉजिटिव

सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि फिलहाल मरकज से 1,548 लोगों को निकाला गया है. इनमें से 441 लोगों में कुछ लक्षण पाए गए हैं. इन्हें अस्पताल भेजा गया है और उनका टेस्ट हो रहा है. मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बताया कि 1107 लोग जिनमें किसी प्रकार को कोई लक्षण नहीं पाया गया उन्हें क्वारनटीन में भेज दिया गया है. कोरोना टेस्ट में 24 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं. उन्हें भर्ती कराया गया है. सर्दी-जुकाम से पीड़ित 86 की हालत स्थिर है. मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग भी इसके लिए जिम्मेदार हैं, उन पर कार्रवाई होगी. दिल्ली सरकार ने इस केस में जिम्मेदारी लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए उपराज्यपाल को पत्र लिखा है.

उपराज्यपाल को लिखा पत्र

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सभी धार्मिक नेताओं से अपील है कि ऐसा मत कीजिए. चाहे आप किसी भी धर्म के हों, हर इंसान की जिंदगी प्यारी है. एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं. जानकारी के लिए आपको बता दें कि दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी जमात के मरकज का कोरोना कनेक्शन सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है. अब मरकज में आए लोगों की तलाश शुरू हो गई है. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.