चक्रवाती तूफान ‘अम्फन’ का कहर

पश्चिम बंगाल में चक्रवाती तूफान ‘अम्फन’ ने भारी तबाही मचा रखी है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां का हवाई सर्वेक्षण किया. इस दौरान पीएम मोदी के साथ सीएम ममता बनर्जी भी थीं. तूफान से बुरी तरह प्रभावित जिलों का जायजा लेने के बाद पीएम ने 1000 करोड़ रुपये की तुरंत मदद पश्चिम बंगाल को देने की घोषणा की है.

पीएम मोदी ने लिया जायजा

इससे पहले चक्रवाती तूफान ‘अम्फन’ से पश्चिम बंगाल में हुई भारी तबाही का जायजा लेने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह कोलकाता पहुंचे. एयरपोर्ट पर राज्‍यपाल जगदीप धनखड़ और सीएम ममता बनर्जी ने उनका स्‍वागत किया था. पीएम ने बाद में हवाई सर्वेक्षण किया.

सीएम ममता बनर्जी भी थीं साथ

चक्रवाती तूफान ‘अम्फन’ से हुई तबाही से राज्‍य में हुए नुकसान का जायजा लिया, इस दौरान प्रभावित इलाकों के ज्‍यादातर स्‍थान पानी से घिरे नजर आ रहे थे. हवाई सर्वेक्षण के बाद पीएम ने समीक्षा बैठक भी की. सीएम ममता बनर्जी ने अम्‍फन तूफान से करीब 1 लाख करोड़ रुपये तक के नुकसान की आशंका जताई है.

कई लोगों की हुई मौत

तबाही की बात की जाए तो यहां तूफान के कारण कई पेड़ और बिजली के खंभे भी गिर गए हैं. पश्चिम बंगाल में अम्‍फन भारी तबाही मचाई है. इसके चलते 72 लोगों की मौत हो गई और दो जिले तबाह हो गए हैं. तूफान से हजारों लोग बेघर हो गए हैं, कई पुल नष्ट हो गए हैं और निचले इलाके जलमग्न हो गए हैं. कोलकाता और राज्य के कई अन्य हिस्सों में तबाही के निशान स्पष्ट देखे जा सकते हैं. लगभग तीन माह के अंतराल में प्रधानमंत्री का यह देश की राजधानी दिल्‍ली के बाहर पहला दौरा है.

कोरोना वायरस की महामारी और देश में जारी लॉकडाउन के चलते पीएम इस दौरान दिल्‍ली में ही रहे. पीएम मोदी की दिल्‍ली के बाहर पिछली यात्रा 29 फरवरी को प्रयागराज और चित्रकूट की थी. करीब 83 दिन बाद पीएम राजधानी से बाहर की यात्रा पर जा रहे हैं. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.