नौसेना पर मंडराया कोरोना का खतरा

दुनिया भर में कोरोना वायरस के कारण कोहराम मचा हुआ है. इस घातक वायरस के चपेट में कई देश आ रखे हैं. भारत के लिए भी यह वायरस सिर दर्द बना हुआ है. जिसके कारण देश में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है. मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक भारतीय नौसेना के जवानों में भी इसका खतरा पैदा हो गया है. बताया जा रहा है कि नौसेना में 25 से अधिक कर्मियों के कोरोना टेस्ट हो चुके हैं और इनमें से 21 पॉजिटिव बताए जा रहे हैं. खबरों की माने तो आईएनएस आंग्रे, मुंबई में 21 पॉजिटिव केस पाए गए हैं.

एक नाविक से फैला संक्रमण

मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार आईएनएस आंग्रे, मुंबई परिसर में एक नाविक से बाकी लोगों में इसका संक्रमण फैला है. यह नाविक 7 अप्रैल को हुई जांच में पॉजिटिव पाया गया था. आईएनएस आंग्रे, मुंबई परिसर में लोगों को क्वारनटीन कर दिया गया है. साथ ही संक्रमण और न फैले इसके लिए सभी कदम उठाए गए हैं. हालांकि जहाज और पनडुब्बियों में संक्रमण का कोई मामला नहीं है. लेकिन दूसरी तरफ देश में कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजों में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है.

किया गया क्वारनटीन

कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज कर रहे स्वास्थ्यकर्मी भी कोरोना वायरस की चपेट में आ रहे हैं. वहीं भारतीय सेना में शामिल अधिकारी भी कोरोना वायरस की चपेट में आ रहे हैं. भारतीय सेना के एक लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक डॉक्टर कोविड-19 से पॉजिटिव पाए गए हैं. खबरों की मानें तो भारतीय सेना के एक लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक अधिकारी एंटी-कोविड ऑपरेशंस में डॉक्टर के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे थे. हालांकि अब उन्हें कोविड-19 से संक्रमित पाया गया है. इसके साथ ही सेना में संक्रमितों की संख्या बढ़कर पांच हो गई है.

खबरों की मानें तो लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक के आर्मी डॉक्टर कोविड-19 से निपटने के लिए सुविधाओं और बुनियादी ढांचे की तैयारी में शामिल रहे हैं. लेफ्टिनेंट कर्नल ऐसे दूसरे डॉक्टर और कुल पांचवें शख्स हैं जो सेना में कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.