‘बिना जजमेंट पढ़ें खुशी’

सुप्रीम कोर्ट की तरफ से राफेल डील पर मिली बीजेपी को क्लीनचिट के बाद कांग्रेस ने हमला बोल दिया है. कांग्रेस ने बीजेपी पर वार करते हुए कहा है कि बीजेपी बिना जजमेंट पढ़ें ही खुशी मना रही हैं. कांग्रेस ने इस दौरान बीजेपी के मंत्रियों पर देश को एब बार फिर से गुमराह करने का आरोप लगाया. राफेल  मामले में बीजेपी पर वार करते हुए कांग्रेस की तरफ से सुरजेवाला ने कहा कि संवैधानिक वजहों से सुप्रीम कोर्ट के हाथ बंधे हो सकते हैं लेकिन जांच एजेंसियों के नहीं.

कांग्रेस की तरफ से मैदान में आए सुरजेवाला ने कहा कि राफेल डील से जुड़े हुए कई पहलू ऐसे भी हैं जोकि संविधान के अनुच्छेद 32 से बाहर हैं. उन्होंने कहा कि संविधान 32 सुप्रीम कोर्ट के हाथों को बांधता हैं लेकिन यह पुलिस या फिर जांच एजेंसियों के हाथों को नहीं बांधता. उन्होंने कहा कि कौर्ट ने पैरा 73 और 87 में इस बात को साफ कहा है कि राफेल डील में सबूत जुटाना जांच एजेंसियों की जिम्मेदारी है क्योंकि उनके हाथ खुले हैं. कोर्ट ने कहा है कि किसी तरह की जांच में कोर्ट का आज का या पिछला फैसला कोई अड़चन नहीं डालेगा.

‘9 सावल बरकरार’

मीडिया को संबोधित करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस के राफेल पर 9 सवालों का सरकार ने आजतक जवाब नहीं दिया है. सभी सवाल अब भी बरकरार हैं. सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी खुशियां मनाने की जगह इसकी जांच कराए.

SC ने दी क्लीनचिट

जानकारी के लिए आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने राफेल लड़ाकू विमान सौदा मामले में केंद्र सरकार को क्लीनचिट देते हुए कहा है कि पुनर्विचार याचिकाएं सुनवायी योग्य नहीं हैं. कोर्ट ने अपने 14 दिसंबर 2018 के फैसले पर पुनर्विचार करने वाली याचिकाओं को खारिज कर दिया. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा