पूरे भारत में लॉकडाउन का ऐलान

कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया में लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे भारत में लॉकडाउन का ऐलान किया है. पीएम मोदी ने देश में 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान किया है. इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि 21 दिन नहीं संभले तो देश 21 साल पीछे चला जाएगा.

‘ये आपको बचाने के लिए’

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मंगलवार रात 12 बजे से पूरे देश में लॉकडाउन होने जा रहा है. पीएम ने कहा कि ये लॉकडाउन आपको बचाने के लिए, आपके परिवार को बचाने के लिए लागू किया जा रहा है. इस दौरान घरों से निकलने पर पूरी पाबंदी लगाई जा रही है. पीएम ने कहा कि 21 दिन नहीं संभले तो कई परिवार तबाह हो जाएंगे. पीएम मोदी ने कहा कि निश्चित तौर पर इस लॉकडाउन की एक आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी, लेकिन एक-एक भारतीय के जीवन को बचाना इस समय मेरी, भारत सरकार की, देश की हर राज्य सरकार की, हर स्थानीय निकाय की सबसे बड़ी प्राथमिकता है.

’21 दिन बहुत महत्वपूर्ण’

देश के नाम संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि ‘आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं. हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो, कोरोना वायरस की संक्रमण सायकिल तोड़ने के लिए कम से कम 21 दिन का समय बहुत अहम है. हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हिंदुस्तान के हर नागरिक को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से, घरों से बाहर निकलने पर, पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है’.

केजरीवाल ने कहा

वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 21 दिनों के लॉकडाउन पर राजधानी दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ‘प्रधानमंत्री जी ने घोषित किया हुआ 21 दिन का देशव्यापी लॉकडाउन कोरोना को फैलने से रोकने के लिए बेहद जरूरी है मैं दिल्ली के हर व्यक्ति को आश्वस्त करता हूँ कि अगले 3 हफ्ते essential items की सप्लाई में कोई कमी नहीं होने देंगे. इस मुश्किल समय में आपकी हर जरूरत का ख्याल रखा जाएगा’

दूसरी तरफ देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. खबरों के हिसाब से अब तक देश में कोरोना वायरस से संक्रमित 550 से ज्यादा मरीज सामने आ चुके हैं. वहीं कोरोना वायरस के कारण भारत में 10 मरीजों की जान भी जा चुकी है. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.