‘बदला लेने की तरह काम’

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश में इन दिनों हो रहे बवाल को लेकर राजनीति भी अपने चरम पद पर पहुंच गई है. ऐसे  कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मीडिया को संबोधित कर राज्य की योगी सरकार पर कई वार किये. इस दौरान प्रियंका गांधी ने नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ प्रदर्शन में जो हिंसा हुई उसमें यूपी पुलिस के रवैये पर सवाल उठाए. प्रियंका गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की पुलिस इस वक्त मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ‘बदला’ लेने वाले बयान पर काम कर रही है.

‘राज्यपाल को भेजी चिट्ठी’

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि ‘हमारी तरफ से राज्यपाल को एक चिट्ठी भेजी गई है, वो पूरा चिट्ठा है जिसका जिक्र मीडिया में हो रहा है. प्रदेश सरकार प्रशासन और पुलिस द्वारा कई जगह अराजकता फैली है, उन्होंने ऐसे कदम उठाए हैं जिनका कोई न्याय या कानूनी आधार नहीं है’.

सीएम योगी पर वार

मीडिया को संबोधित करते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर वार किया और कहा कि ‘श्रीकृष्ण, राम करुणा के प्रतीक हैं, हमारे यहां शिव की बारात में सब नाचते हैं. इस देश की आत्मा में ‘बदला’ जैसे शब्द की जगह नहीं है, श्रीकृष्ण ने कभी बदले की बात नहीं की. इस प्रदेश के सीएम योगी के वस्त्र पहनते हैं, ये भगवा आपका नहीं है. ये भगवा हिंदुस्तान की धार्मिक आस्था का प्रतीक है, उस धर्म का पालन करना सीखिए’.

‘मुकदमे की धमकी दी गई’

मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ‘मैं बिजनौर गई थी, वहां दो बच्चों की मौत हुई. एक लड़का कॉफी मशीन को चलाता था, वह घर के बाहर खड़ा था. वो बच्चा सिर्फ दूध लेने के लिए गया था लेकिन वहां पर ही उसकी मौत हो गई. बच्चे की लाश को नहीं दिया गया, परिवार को मुकदमे की धमकी दी गई’.

प्रियंका गांधी ने कहा कि ‘लखनऊ के दारापुरी में 77 साल के रिटायर्ड ऑफिसर को घर से गिरफ्तार किया गया, जो अंबेडकरवादी हैं. उन्होंने प्रदर्शन को लेकर एक फेसबुक पोस्ट डाली, फिर लोगों को सावधानी जताते हुए पोस्ट डाली. लेकिन पुलिस उनके घर आई और गिरफ्तार करके ले गई’.

’1100 लोग हुए गिरफ्तार’

उन्होंने कहा कि ‘10 साल के बच्चे, 16 साल की बच्ची आज अकेली रह रहे हैं, क्योंकि उनकी मां सिर्फ सड़क पर जारी प्रदर्शन की वीडियो ले रही थी लेकिन पुलिस ने उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया गया. प्रियंका गांधी ने इस दौरान कहा कि प्रदेश में 5500 लोग हिरासत में हैं, 1100 गिरफ्तार हुए हैं’. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा