पायल रोहतगी का दीपिका पर वार

जेएनयू में हुई हिंसा के मामले में बॉलीवुड की तरफ से भी काफी रिएक्शन सामने आ रहे हैं. लेकिन इस बीच अभिनेत्री दीपिका पादुकोण जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय पहुंची और हिंसा में घायल छात्रों से मिलीं. जिसके बाद से ही सोशल मीडिया पर उनकी आने वाली फिल्म ‘छपाक’ को बायकॉट करने की बात चलने लगी. हालांकि इसके विरोध में कई सितारें भी सामने आये जिन्होंने अभिनेत्री का सपोर्ट किया. लेकिन इस बीच पायल रोहतगी को दीपिका का जेएनयू जाना रास नहीं आया.

ट्वीट कर कही ये बात

अपनी बात को बेबाकी से रखने वाली और अपने विवादित ट्वीट्स की वजह से चर्चा में रहने वाली पायल ने दीपिका को लेकर कई सारे ट्वीट्स किए. एक ट्वीट में पायल ने  लिखा कि ‘जहां दीपिका के पिता ने भारत के लिए गोल्ड मेडल जीते. दूसरी तरफ दीपिका भारत को तोड़ने वाली फोर्स के साथ खड़ी हैं. आखिरकार दीपिका ने ये साबित कर दिया कि वे आलिया भट्ट की बेस्ट फ्रेंड हैं. #boycottchhapaak #DeepikaAtJNU’

 ‘मेघना गुलजार ने किया ब्रेनवॉश’

पायल ने दूसरे ट्वीट में लिखा कि ‘मेघना गुलजार ने दीपिका का ब्रेनवॉश किया कि वे कुछ JNUSU प्रेसिडेंट से मिलें, जिन्होंने कैंपस में गुंडों को अंदर जाने दिया. ताकि ABVP छात्रों की आवाज को दबाई जा सके जो 4 नई सेमिनार के लिए रजिस्टर कर रहे थे. लेफ्टिस्ट गुस्से में थे क्योंकि उनका मिडनाइट पीने का प्रोग्राम रुक गया था. दीपिका मुझे इडियट लग रही है. #BoycottChhapaak’

वही दूसरी तरफ हाल ही में CAA और NRC को लेकर विरोध जाहिर कर रही स्वरा भास्कर को पायल ने रोहिंग्या मुसलमान कहा था. जिसके बाद स्वरा ने उन्हें मुंहतोड़ जवाब भी दिया था. ऐसे में दीपिका पादुकोण के JNU छात्रों का सपोर्ट करने के बाद से उनकी फिल्म छपाक को बायकॉट करने की मांग तेज हो गई है. कई यूजर्स ने दीपिका के JNU जाने को पब्लिसिटी स्टंट बताया है.

JNU मामले में बॉलीवुड का विरोध

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में स्टूडेंट्स के ख़िलाफ़ हुई हिंसा को लेकर इन दिनों बवाल मचा हुआ है. देश के अलग अलग हिस्सों में इस हिंसा की आग दिखाई दे रही है. जिसके बाद बॉलीवुड के कई सितारे इस मामले में अपना विरोध दर्ज करा रहे हैं. 

प्रोटेस्ट में शामिल हुईं दीपिका पादुकोण

बॉलीवुड सेलेब्रिटीज़ विरोध कर चुके हैं और सोशल मीडिया के ज़रिए अपनी बात रख रहे हैं. जिसके बाद अब मुंबई में भी इसको लेकर सेलेब्रिटीज़ ने शांतिपूर्वक प्रोटेस्ट किया. वहीं एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण ने जेएनयू स्टूडेंट्स का समर्थन किया है. दीपिका अपना विरोध दर्ज कराने के लिए जेएनयू पहुंची. जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया में शेयर की जा रही हैं.

JNU जाकर किया विरोध

इन दिनों दीपिका अपनी फ़िल्म छपाक को प्रमोट करने के लिए दिल्ली में ही हैं. ऐसे में उन्होंने जवाहरलाल विश्वविद्यालय पहुंचकर हिंसा के शिकार हुए स्टूडेंट्स से मुलाक़ात की. हालांकि इस दौरान उन्होंने कोई बयान नहीं दिया. कई सोशल मीडिया यूजर्स ने दीपिका की फोटो को शेयर किया है. हालांकि फोटो में दीपिका चुप्पी साधे दिखाई दे रही हैं.

वही इससे पहले भी एक मीडिया चैनल को दिए इंटरव्यू में दीपिका की तरफ से कहा गया था कि ‘मुझे यह देखकर गर्व होता है कि हम ख़ुद को एक्सप्रेस करने में डर नहीं रहे हैं. चाहे जो नज़रिया हो, लेकिन यह अच्छा है कि लोग देश के भविष्य के बारे में बात कर रहे हैं’.

दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुई हिंसा के बाद अब बवाल मच गया है. इस हिंसा की आग अब देश के अन्य हिस्सों में भी फैलती जा रही है. जेएनयू के बाद अब गुजरात के अहमदाबाद इसकी आग देखने को मिली. यहां ABVP और NSUI के छात्र आपस में भिड़ गए. मामला ABVP दफ्तर के पास का है. यहां दोनों गुट आमने-सामने आ गए जिसके बाद दोनों तरफ से जमकर पत्थर-लाठी चले. इस दौरान कई लोग लोगों को गंभीर चोट आयी.

भिड़े ABVP-NSUI कार्यकर्ता

मामला उस वक्त का है जब गुजरात के अहमदाबाद में ABVP दफ्तर के बाहर JNU हिंसा को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहा था. इस दौरान वहां पर NSUI और ABVP के कार्यकर्ताओं में भिड़ंत हो गई. बता दें कि पांच जनवरी को JNU में हुई हिंसा के बाद देश की कई यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन जारी है.

जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्रों का प्रदर्शन

इस कड़ी में जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्रों ने भी प्रदर्शन किया था. ऐसे में पुलिस की ओर से लाठीचार्ज का सहारा लिया गया तब जाकर हालात को काबू किया गया था. वही बंगाल में हुए इस प्रदर्शन में जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्र और पुलिस भी आमने-सामने आ गए थे.

प्रदर्शन में दिखे बॉलीवुड सितारे

जादवपुर यूनिवर्सिटी के अलावा मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया पर भी JNU हिंसा के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया था. गौरतलब है कि इस प्रदर्शन में कई बॉलीवुड की हस्तियां भी शामिल हुई थीं. प्रदर्शन में अनुराग कश्यप, विशाल भारद्वाज, तापसी पन्नू जैसे बड़े नाम शामिल रहे थे.

नकाबपोशों ने की थी तोड़फोड़

हालांकि मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार प्रदर्शन के दौरान ‘FREE KASHMIR’ के पोस्टर पर काफी बवाल हुआ था जिसके बाद अब मुंबई पुलिस इस मामले में जांच कर रही है. जानकारी के लिए बता दें कि जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में कुछ नकाबपोश हमलावरों ने कैंपस में घुसकर तोड़फोड़ की थी. मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार नकाबपोशों की तरफ से छात्रों और फैकल्टी पर हमला किया गया था जिसमें 30 से अधिक लोग घायल हुए थे. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.

प्रदीप शर्मा