अरुण गोविल का ट्वीट

कोरोना वायरस के कारण देश में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है. लॉकडाउन के कारण टीवी पर एक बार फिरसे रामायण का प्रसारण किया जा रहा है. दर्शकों को यह पौराणिक धारावाहिक खासा पसंद आ रहा है. टीआरपी लिस्ट में यह धारावाहिक सभी टीवी शो को लगातार पीछे छोड़ नंबर वन बना हुआ है.

सरकार से दिखे नाजार

इस धारावाहिक में भगवान में राम का किरदार निभाने वाले एक्टर अरुण गोविल भी लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं. रामायण के हर एपिसोड के बाद अरुण गोविल सोशल मीडिया पर फैन्स से जुड़ते हैं. उन्होंने हाल ही में एक ट्वीट किया है. अरुण गोविल का ट्वीट काफी वायरल हो रहा है. ट्वीट में अरुण गोविल केंद्र और राज्य सरकारों से खासे नाराज दिख रहे हैं.

‘नहीं मिला कोई सम्मान’

अरुण गोविल ने लिखा कि ‘चाहे कोई राज्य सरकार हो या केंद्र सरकार, मुझे आज तक किसी सरकार ने कोई सम्मान नहीं दिया है. मैं उत्तर प्रदेश से हूं, लेकिन उस सरकार ने भी मुझे आज तक कोई सम्मान नहीं दिया. और यहां तक कि मैं पचास साल से मुंबई में हूं, लेकिन महाराष्ट्र की सरकार ने भी कोई सम्मान नहीं दिया’.

रामानंद सागर की रामायण में राम का किरदार निभाने वाले अरुण गोविल ने ट्विटर पर अपना दर्द बयां किया. जिसके बाद उनके ट्वीट पर यूजर्स के रिएक्शन आ रहे हैं. मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार अरुण गोविल ने हाल ही में दिए अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि ‘मैंने अपने करियर की शुरुआत हिंदी फिल्म में हीरो के तौर पर की थी और ‘रामायण’ के बाद जब मैं बॉलीवुड में वापस लौटना चाहता था, तो निर्माता कहते थे आपकी राम वाली छवि काफी मजबूत है, हम आपको किसी और किरदार में कास्ट नहीं कर सकते या सहायक भूमिका नहीं दे सकते हैं’

जानकारी के लिए आपको बता दें कि काफी साल पहले रामानंद सागर द्वारा बनाई गई रामायण की चर्चा आज भी होती है. जिस वक्त टीवी पर रामायण को प्रसारित किया जाता था उस वक्त लोग अपना सारा काम छोड़कर टीवी के सामने बैठ जाया करते थे. यहां तक कि गलियां भी सुनसान हो जाया करती थी. लोग रामायण को पूरी श्रद्धा के साथ देखा करते थे. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.