बॉलिवुड ऐक्ट्रेस कोएना मित्रा इन दिनों सुर्खियों में चल रही हैं. सुर्खियों कका कारण उनको मिली 6 महीने की जेल की सजा है. जी हां एक मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की कोर्ट ने कोएना को 6 महीने जेल की सजा सुनाई है इसके साथ ही कोएना पर शिकायतकर्ता को ब्याज सहित 4.64 लाख रुपए देने का भी जुर्माना लगाया है.

साल 2013 का है पूरा मामला

मामला चेक बाउंस का है. इस मामले में कोएना मित्रा ने साल 2013 में पूनम सेठी नाम की शिकायतकर्ता से पैसे लिए थे. कोएना ने अपनी जरूरत बताकर 22 लाख रुपए लिए थे इसी रकम को वापस करने के लिए उन्होंने पूनम को तीन लाख का चेक दिया था. लेकिन जब उस चेक को कैश कराने की बारी आई तो चेक बाउंस हो गया. चेका बाउंस होने के बाद पूनम सेठी ने कोएना पर मामला दर्ज करा दिया.

कोएना ने सभी आरोपों को गलत बताया

इस दौरान कोएना ने शिकायतकर्ता पर इल्जाम लगाया और उनके आरोपों को गलत बता कर कहा कि पूनम सेठी के पास पैसे उधार देने की क्षमता ही नहीं थी उन्होंने मेरे चैक चुराए थे. सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कोएना के तर्कों को मानने से इनकार कर दिया जिसका नतीजा यह रहा कि कोएना अपनी बात साबित नहीं कर पाई. कोर्ट ने कहा कि चेक इस बात पर बाउंस नहीं हुआ है कि पैसे देने वाले ने दिए या नहीं दिए. चेक इस वजह से बाउंस हुआ है क्योंकि अकाउंट में पैसे ही नहीं थे. कोर्ट ने यह भी कहा कि अगर आपके चेक घर से चोरी हो गए थे जो कि ब्लैंक थे तो भी आपके पास पूरा मौका था इस पेमेंट को रोकने का लेकिन आप की तरफ से ऐसा कुछ भी नहीं किया गया.

‘मुझे फंसाया जा रहा है’

इस मामले में कोएना मित्रा का कहना है कि यह केस झूठा है और उन्हें फंसाया जा रहा है उन्होंने कहा कि कोर्ट में वकील नहीं थे और बिना पूरी बात सुने ही कोर्ट की तरफ से फैसला आ गया साथ ही उन्होंने कोर्ट के फैसले को ऊपरी अदालत में चैलेंज करने की बात कही उन्होंने कहा कि उनके वकील इस मामले में काम कर रहे हैं.

आपको बता दें कि हाल ही में कोएना मित्रा चर्चा में आई थी जब उन पर फिल्माए गाने साकी साकी का आदमी खाने वाला था जिसमें कड़ा विरोध जताया था.

’ ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.