अखिलेश यादव का वार

चीन से आयात किए गए कोरोना वायरस रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट किट को लेकर इन दिनों राजनीति काफी ज्यादा बढ़ गई है. इस मामले में समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने किट को लेकर सरकार पर हमला बोला है. अखिलेश यादव ने कहा कि चीन से आयातित रैपिड टेस्ट किट को बिना गुणवत्ता की जांच किए प्रयोग में लाना जनता के साथ धोखा है. उन्होंने इसे सरकार की बड़ी लापरवाही बताते हुए ट्वीट किया कि अब टेस्ट स्थगित करनेवाली आईसीएमआर को इस विषय पर पहले ही चेतावनी देनी चाहिए थी.

‘जनता के साथ धोखा’

उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी लापरवाही पर सरकार तुरंत स्पष्टीकरण देकर बताए कि पहले जो जांच हुई है, उनके परिणाम कितने सटीक थे. गौरतलब है कि हॉटस्पॉट में एक साथ बड़ी संख्या में लोगों के रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट का फैसला लिया गया था. लेकिन कुछ जगहों पर रैपिड टेस्टिंग किट में गड़बड़ी का मामला सामने आने के बाद आईसीएमआर के निर्देश पर इसकी जांच दो दिनों के लिए रोक दी गई. रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट किट से नोएडा के हाटस्पॉट में 100 संदिग्ध लोगों की जांच की गई थी और सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई थी.

वहीं दूसरी तरफ राजस्थान के कोटा से यूपी लौटे इंजीनियरिंग व मेडिकल की तैयारी कर रहे करीब साढ़े सात हजार विद्यार्थियों की भी स्क्रीनिंग भी इसी से की जा रही है. मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार अभी तक जितने भी टेस्ट हुए हैं उनमें ज्यादातर की रिपोर्ट निगेटिव आई है. सिर्फ गाजीपुर में एक विद्यार्थी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. ऐसी रोचक जानकारी के लिए पढ़ें हमारे लेटेस्ट आर्टिकल. अधिक जानकारी के लिए विजिट करें हमारा फेसबुक पेज.