आईसीसी विश्वकप 2019 का 42वां मुकाबला गुरुवार को वेस्टइंडीज और अफगानिस्तान के बीच खेला गया। गौरतलब है कि दोनों ही टीमें सेमीफाइनल की होड़ से बाहर हो चुकी हैं। हालांकि सम्मान बचाने उतरी दोनों टीमों के मुकाबले में वेस्टइंडीज ने बाजी मार ली, तो वहीं अफ़ग़ानिस्तान के एक खिलाड़ी ने इतिहास रच दिया।

लीड्स के हेडिंग्ले क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए इस मुकाबले में अफगानिस्तान के युवा बल्लेबाज इकराम अली ख़िल ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अपने वनडे करियर का पहला पचासा जड़ा। इस अर्धशतक के साथ इकराम ने क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का एक रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। इकराम ने इस मैच में 93 गेंदों पर आठ चौकों की मदद से 86 रन बनाए। इसी के साथ वे विश्व कप में इतने रन बनाने वाले सबसे कम उम्र के पहले खिलाड़ी बन गए।

इकराम से पहले ये कारनामा तेंदुलकर ने किया था। सचिन ने 1992 विश्वकप में दो बार ऐसा किया था। उन्होंने जिम्बाब्वे के खिलाफ 81 रनों की पारी खेली थी। तब सचिन की आयु 18 साल 318 दिन थीं, वहीं 1992 विश्वकप के दौरान ही उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ 84 रन बनाए थे तब सचिन महज़ 18 साल 323 दिन के थे। गुरुवार को इकराम ने जब ये ऐतिहासिक पारी खेली तब वे 18 साल 278 दिन के थे। हालांकि इकराम की यह ऐतिहासिक पारी उनकी टीम के काम नहीं आ सकी और अफगानिस्तान की यात्रा इस टूर्नामेंट में बिना खाता खोले ही समाप्त हो गयी।

1992 विश्व कप में सचिन तेंदुलकर

इकराम को 73 रन के निजी योग पर जीवनदान भी मिला था। विकेटकीपर होप ने क्रिस गेल की गेंद पर स्टंप करने का आसान मौका गंवा दिया था। हालांकि इस जीवनदान का सदुपयोग नहीं कर सके और अपने पहले शतक की तरफ बढ़ते गेल की गेंद पर स्वीप करने के प्रयास में एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। दिलचस्प तथ्य है कि जब गेल ने वनडे में पदार्पण किया उससे एक साल बाद इकराम का जन्म हुआ था।

Source: gettyimages

वहीं मैच की बात करें तो वेस्टइंडीज ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 311रन बनाए। वहीं लक्ष्य का पीछा करने उतरी अफ़ग़ानिस्तान 288 रन पर ही सिमट गई।